Published On: Wed, Apr 28th, 2021

अच्छी खबर! अमेरिकी एक्सपर्ट का दावा- कोरोना वायरस के 617 वैरिएंट्स को बेअसर करती है कोवैक्सीन

Share This
Tags

डॉक्टर एंथॉनी फॉसी ने जानकारी दी है कि कोवैक्सीन वायरस के 617 वैरिएंट्स को बेअसर कर रही है. (AP Photo/Patrick Semansky, Pool)

डॉक्टर एंथॉनी फॉसी ने जानकारी दी है कि कोवैक्सीन वायरस के 617 वैरिएंट्स को बेअसर कर रही है. (AP Photo/Patrick Semansky, Pool)

America Helps India: भारत की मदद को लेकर व्हाइट हाउस (White House) के कोविड-19 रिस्पॉन्स के सीनियर एडवाइजर डॉक्टर एंडी स्लैविट ने कहा ‘हम इस दुखद इजाफे के दौरान भारत के साथ खड़े हैं.

वॉशिंगटन. अमेरिका से वैक्सीन (Covid Vaccine) को लेकर अच्छी खबर आई है. अमेरिका के शीर्ष महामारी विशेषज्ञ डॉक्टर एंथॉनी फॉसी (Dr Anthony Fauci) ने कहा है कि स्वदेशी वैक्सीन कोवैक्सीन (Covaxin) कोरोना वायरस 617 वैरिएंट्स को बेअसर करने में कारगर है. डॉक्टर फॉसी ने यह जानकारी मंगलवार को पत्रकारों से बातचीत के दौरान दी. वे व्हाइट हाउस के प्रमुख मेडिकल एडवाइजर भी हैं. मंगलवार को फॉसी ने जानकारी दी है कि कोवैक्सीन वायरस के 617 वैरिएंट्स को बेअसर कर रही है. उन्होंने कहा ‘यह कुछ ऐसा है, जहां हम अभी भी रोज डेटा जुटा रहे हैं. लेकिन हाल ही में एक डेटा कोविड-19 का कॉन्वालैसेंट सेरा और भारत में उन लोगों के बारे में जानकारी जुटा रहा था, जिन्होंने कोवेक्सीन प्राप्त की है.’ उन्होंने बताया ‘पाया गया है कि यह 617 वैरिएंट्स को बेअसर कर रही है.’ फॉसी ने कहा ‘हम भारत में जो असल मुश्किल देख रहे हैं, उसके बावजूद टीकाकरण इसके खिलाफ बहुत ही अहम एंटीडोट साबित हो सकता है.’ यह भी पढ़ें: RT PCR जांच निगेटिव आए लेकिन बरकरार रहें लक्षण तो क्या करें? AIIMS निदेशक ने दी यह सलाह

न्यूयॉर्क टाइम्स ने मंगलवार को कहा कि कोवैक्सीन SARS-CoV-2 कोरोना वायरस के खिलाफ इम्यून सिस्टम को एंटीबॉडी बनाना सिखाकर काम करती है. एंटीबॉडीज सतह से जुड़े रहने वाले कथित स्पाइक प्रोटीन्स की तरह वायरल प्रोटीन से जुड़ी होती है. इस वैक्सीन को भारत बायोटेक ने नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी और इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के साथ मिलकर बनाया है. कोवैक्सीन को बीती 3 जनवरी को आपातकालीन इस्तेमाल के लिए अनुमति मिल गई थी.

भारत की मदद को लेकर व्हाइट हाउस के कोविड-19 रिस्पॉन्स के सीनियर एडवाइजर डॉक्टर एंडी स्लैविट ने कहा ‘हम इस दुखद इजाफे के दौरान भारत के साथ खड़े हैं. हम थैरेप्यूटिक्स, रैपिड टेस्टिंग किट्स, वेंटिलेटर्स, पीपीई और वैक्सीन निर्माण के लिए कच्चे माल समेत संसाधन मुहैया कराने पर काम कर रहे हैं.’ उन्होंने कहा ‘भारत के साथ काम के लंबे इतिहास वाली सीडीसी देश में स्वास्थ्य प्रयासों की मदद के लिए वहां स्ट्राइट टीम को तैनात करेगी.’







Source link

About the Author

- Blogger

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>